Simply enter your keyword and we will help you find what you need.

What are you looking for?

Azadee Ke Pahale Azadee Ke Baad

Nominated | Book Awards 2021 | Hindi Fiction

Azadee Ke Pahale Azadee Ke Baad

गोधन ही भारत का धन है, गोधन पावन तन का मन है जन मन के वैभव का गौरव गोधन भारत का जीवन है; 1939 और शपथ ले, करे प्रतिज्ञा ले स्वतन्त्रता या मर जायें, रण में सोयें ओढ़ तिरंगा या उसको नभ तक फहरायें। 9 अगस्त 1942 कल का दशहरा भारत के इतिहास में स्वर्णाक्षरों से लिखा जावेगा क्योंकि हिन्दुओं के त्योहार पर मुसलमानों ने इतना आदर भाव दिखाया है। आज का मिलन देखकर मेरे प्राण हिल गये हैं और दो एक बार आँसू पोंछना पड़े हैं ना जाने क्यों जी भर-भर आया है, आँखें छलक-छलक उठी हैं।

Full Title: Azadee Ke Pahale Azadee Ke Baad

Author: Inder Bahadur Khare
Publisher: Vani Prakashan

Award Category: Hindi Fiction
About the Book: 

गोधन ही भारत का धन है, गोधन पावन तन का मन है जन मन के वैभव का गौरव गोधन भारत का जीवन है; 1939 और शपथ ले, करे प्रतिज्ञा ले स्वतन्त्रता या मर जायें, रण में सोयें ओढ़ तिरंगा या उसको नभ तक फहरायें। 9 अगस्त 1942 कल का दशहरा भारत के इतिहास में स्वर्णाक्षरों से लिखा जावेगा क्योंकि हिन्दुओं के त्योहार पर मुसलमानों ने इतना आदर भाव दिखाया है। आज का मिलन देखकर मेरे प्राण हिल गये हैं और दो एक बार आँसू पोंछना पड़े हैं ना जाने क्यों जी भर-भर आया है, आँखें छलक-छलक उठी हैं।


About the Author: 

इन्द्र बहादुर खरे 16 दिसम्बर, 1922, गाडरवारा (म.प्र.)-13 अप्रैल, 1953 प्रयाग (उ.प्र.) शिक्षा : सोहागपुर, कटनी, महोबा, मथुरा, जबलपुर, नागपुर, प्रयाग, एम.ए., (पीएच.डी. अपूर्ण), साहित्य रत्न, भारत स्काउट्स एवं गाइड्स, विद्यासागर (मरन्नोपरान्त) अभिरुचि : स्काउटिंग, हॉकी, फुटबाल, चित्रकला पुस्तकें : 'रसायन-एक अध्ययन' (हरिऔध, मैथिलीशरण, प्रसाद, निराला, पंत, महादेवी) सागर वि.वि. के बी.ए., एम.ए. के छात्रों के लिए 1950, सुमन कुंजी, भारत वैभव भाग 3, कक्षा सातवीं 1951; मरणोपरान्त : काव्य 'विजन के फूल' 1955, 'भोर के गीत' 2009 (वि. वि. के एम.ए. के पाठ्यक्रम में सम्मिलित), 'सुरबाला', 'सिन्दूरी किरण', 'आरती के दीप', 'बाल गीत', राष्ट्रीय कविताएँ 'आज़ादी के पहले आज़ादी के बाद', गद्य काव्य 'रजनी के पल', कहानी संग्रह 'बेलाताल', लघु उपन्यास 'जीवन पथ के राही', लेख 'कश्मीर', 'आचार्य रामचंद्र शुक्ल के साहित्य' पर एम.ए. के प्रश्न उत्तर, 'ग़ज़ल', 'निबन्ध', 'अनुवाद' आदि सम्पादन : 'भारत वैभव भाग 1' कक्षा पाँचवी के लिए सहायक पाठ्य पुस्तक 1950, 'भारत वैभव भाग 2' कक्षा छठवीं 1950, रेवा', 'युगारम्भ', 'प्रकाश', 'ऋतम्भरा' आकाशवाणी नागपुर के अनुमोदित गीतकार, कहानीकार।


Write a Review

Review Azadee Ke Pahale Azadee Ke Baad.

Your email address will not be published.